Sale!

Sharmayu Ashwagandharishta Supreme, 450 ml

310.00 279.00

Indication:

Ashwagandharishta Supreme (Popularly known as Indian Ginseng) acts as an ayurvedic antibiotic and regulates the nervous system.

It is a Asav based preparation manufactured in 70 days after following a traditionally prescribed Ayurvedic Process. Very effective in all types of diseases and ailments related with nervous system. Stress buster and fights insomnia by promoting good sleep. Fights old age and very effective in building immunity.

  1. Helps Reducing stress and anxiety
  2. Fights symptoms of depression and helps relaxing mind.
  3. Helps increasing muscle mass and strength.
  4. Assures long term relief and no side effects

Ashawagandharishta-Supreme  In addition to the properties of  Ashawagandharishta  it also includes special properties of Shatavari, Arajun Chhal, konch beej, kharainti beej and Babool chaal. The regular intake improves power of concentration, recall  and also improves natural sleep.

Dose: 3 to 6 teaspoonful twice a day with equal water or as directed by the physician.

Available in:  450 ml.

 

अश्ववंधिष्ट सुप्रीम

अश्वगंधारिष्ट सुप्रीम (लोकप्रिय रूप से भारतीय जिनसेंग के रूप में जाना जाता है) एक आयुर्वेदिक एंटीबायोटिक के रूप में कार्य करता है और तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करता है।

यह आसव पारंपरिक रूप से निर्धारित आयुर्वेदिक प्रक्रिया का पालन करते हुए शस्त्रोक्त विधि से 70 दिनों में निर्मित किया जाता है। यह तंत्रिका तंत्र से संबंधित सभी प्रकार की बीमारियों में बहुत प्रभावी है। यह स्ट्रेस बूस्टर और अच्छी नींद को बढ़ावा देकर अनिद्रा से लड़ता है। वृद्धावस्था को दूर करता है और रोगप्रतिरक्षा के निर्माण में बहुत प्रभावी है।

  1. तनाव और चिंता को कम करने में मदद करता है
  2. अवसाद के लक्षणों से लड़ता है और मन को शांत करने में मदद करता है।
  3. मांसपेशियों और ताकत को बढ़ाने में मदद करता है।
  4. दीर्घकालिक राहत देकर कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होने देता है

गुणधर्म: अश्वगंधारिष्ट के अलावा इसमें शतावरी, अर्जुन छाल,  कोंच बीज, खरेंटी बीज और बबूल छाल के भी विशेष गुण सम्मिलित हैं। इसके सेवन से मानसिक तनाव दूर होता है और नींद शान्तिपूर्वक आती है एवं स्नायु दौर्बल्यता में लाभकारी है।

मात्रा: चाय के 3 से 6 चम्मच बराबर जल मिलाकर दिन में दो बार अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

100 in stock

Indication:

Ashwagandharishta Supreme (Popularly known as Indian Ginseng) acts as an ayurvedic antibiotic and regulates the nervous system.

It is a Asav based preparation manufactured in 70 days after following a traditionally prescribed Ayurvedic Process. Very effective in all types of diseases and ailments related with nervous system. Stress buster and fights insomnia by promoting good sleep. Fights old age and very effective in building immunity.

  1. Helps Reducing stress and anxiety
  2. Fights symptoms of depression and helps relaxing mind.
  3. Helps increasing muscle mass and strength.
  4. Assures long term relief and no side effects

Ashawagandharishta-Supreme  In addition to the properties of  Ashawagandharishta  it also includes special properties of Shatavari, Arajun Chhal, konch beej, kharainti beej and Babool chaal. The regular intake improves power of concentration, recall  and also improves natural sleep.

Dose: 3 to 6 teaspoonful twice a day with equal water or as directed by the physician.

Available in:  450 ml.

 

अश्ववंधिष्ट सुप्रीम

अश्वगंधारिष्ट सुप्रीम (लोकप्रिय रूप से भारतीय जिनसेंग के रूप में जाना जाता है) एक आयुर्वेदिक एंटीबायोटिक के रूप में कार्य करता है और तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करता है।

यह आसव पारंपरिक रूप से निर्धारित आयुर्वेदिक प्रक्रिया का पालन करते हुए शस्त्रोक्त विधि से 70 दिनों में निर्मित किया जाता है। यह तंत्रिका तंत्र से संबंधित सभी प्रकार की बीमारियों में बहुत प्रभावी है। यह स्ट्रेस बूस्टर और अच्छी नींद को बढ़ावा देकर अनिद्रा से लड़ता है। वृद्धावस्था को दूर करता है और रोगप्रतिरक्षा के निर्माण में बहुत प्रभावी है।

  1. तनाव और चिंता को कम करने में मदद करता है
  2. अवसाद के लक्षणों से लड़ता है और मन को शांत करने में मदद करता है।
  3. मांसपेशियों और ताकत को बढ़ाने में मदद करता है।
  4. दीर्घकालिक राहत देकर कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होने देता है

गुणधर्म: अश्वगंधारिष्ट के अलावा इसमें शतावरी, अर्जुन छाल,  कोंच बीज, खरेंटी बीज और बबूल छाल के भी विशेष गुण सम्मिलित हैं। इसके सेवन से मानसिक तनाव दूर होता है और नींद शान्तिपूर्वक आती है एवं स्नायु दौर्बल्यता में लाभकारी है।

मात्रा: चाय के 3 से 6 चम्मच बराबर जल मिलाकर दिन में दो बार अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.